स्वास्थ्य

आपने वो कहावत तो सुनी होगी ‘दूध का दूध पानी का पानी’ मतलब कि यह साफ हो जाना कि सच क्या है. लेकिन अब इसमें सिर्फ पानी ही नहीं कई केमिकल्स की मिलावट की जाती है. जो शरीर के लिए बेहद हानिकारक है. दूध एक ऐसी चीज हैं जिसका रोजाना घरों में इस्तेमाल किया जाता है. आइए जानते हैं कुछ सामान्य सी जानकारियां

photostudio_1606581649738
photostudio_1601020483281 (1)
advertising-word-block
VIGYAPAN
IMG-20210302-WA0056
IMG_20210303_184058_612

नई दिल्ली: आपने वो कहावत तो सुनी होगी ‘दूध का दूध पानी का पानी’ मतलब कि यह साफ हो जाना कि सच क्या है. लेकिन अब इसमें सिर्फ पानी ही नहीं कई केमिकल्स की मिलावट की जाती है. जो शरीर के लिए बेहद हानिकारक है. दूध एक ऐसी चीज हैं जिसका रोजाना घरों में इस्तेमाल किया जाता है. आइए जानते हैं कुछ सामान्य सी जानकारियां जिनके जरिए दूध में मिलावट के बारे में पता लगाया जा सकता है.

दूध में मिलावट का ऐसे करें पता
सिंथेटिक दूध- दूध में मिलावट की पहचान करने के लिए इसको सूंघकर की जा सकती है. अगर इसमें साबुन की गंध आ रही है तो यह दूध सिंथेटिक है. असली दूध में साबुन की गंध नहीं आती है.

वहीं, दूध की कुछ बुंदे एक कटोरी में डालकर हल्दी मिलाएं, अगर हल्दी तुरंत गाढ़ी न हो तो इसका मतलब इसमें मिलावट की गई है.

दूध में पानी की मिलावट
अक्सर लोगों को शक होता है कि दूध में पानी मिला हुआ है. आप घर में आसानी से दूध में पानी की मिलावट चेक कर सकते हैं. आप दूध की एक बूंद को किसी चिकनी लकड़ी या पत्थर की सतह पर डालें. शुद्ध दूध की बूंद धीरे-धीरे सफेद लकीर छोड़ते हुए जाएगी, जबकि पानी की मिलवाट वाली बूंद बिना कोई निशान छोड़े बह जाएगी.

दूध में डिटर्जेंट की मिलावट
सबसे पहले बराबर मात्रा में थोड़ा सा दूध और पानी लें. इसको हिलाएं अगर इसमें झाग बनता है तो बड़े-बड़े बुलबुले नजर आ रहे हैं तो समझ जाइए कि दूध में डिटर्जेंट मिला हुआ है .

यूरिया का इस्तेमाल
दूध को गाढ़ा करने के लिए यूरिया का इस्तेमाल भी किया गया हो सकता है. इसे चेक करने के लिए आप एक चम्मच दूध को टेस्ट ट्यूब में डालें. उसमें आधा चम्मच सोयाबीन या अरहर का पाउडर डालकर अच्छी तरह मिला लें. कुछ देर बाद लाल लिटमस पेपर डालें, आधे मिनट बाद अगर रंग लाल से नीला हो जाए, तो दूध में यूरिया है.

स्टार्च की मिलावट
बाजार में मिलने वाले दूध में सबसे ज्यादा स्टार्च की मिलावट हो सकती है. इसलिए इसकी पहचान के लिए आप इसमें लोडीन का टिंर और लोडीन सॉल्यूशन में कुछ बूंदे डालें, अगर वह नीली हो गई तो समझ जाएं की ये दूध मिलावटी है.

Source 15-03-2021

Related Articles

Back to top button
Close
Close