देश

दुनिया की सबसे महंगी दवा ‘जोल्गेन्स्मा’ की सिंगल डोज लेने के कुछ ही घंटों बाद तीन वर्षीय अयांश ने अपने माता-पिता से कहा कि वह चलकर घर जाना चाहता है. अयांश के माता-पिता रूपल और योगेश गुप्ता के लिए यह जीवन का सबसे यादगार दिन रहा. बच्चे के माता-पिता ने इंजेक्शन को 16 करोड़ रुपए में खरीदा था. ये रुपए उन्होंने क्राउड फंडिंग के जरिए इकट्ठा किए थे. इसके लिए लगभग 65 हजार लोगों ने रुपए डोनेट किए थे. ,

VIGYAPAN
photostudio_1634614114400
IMG-20211220-WA0000
photostudio_1633317682627
photostudio_1651243523526

दुनिया की सबसे महंगी दवा ‘जोल्गेन्स्मा’ (Zolgensma) की सिंगल डोज लेने के कुछ ही घंटों बाद तीन वर्षीय अयांश ने अपने माता-पिता से कहा कि वह चलकर घर जाना चाहता है. अयांश (Ayaansh) के माता-पिता रूपल और योगेश गुप्ता के लिए यह जीवन का सबसे यादगार दिन रहा, जब उन्होंने अपने बच्चे के मुंह से इन शब्दों को सुना. अयांश की बातों को सुनकर उसके माता-पिता की आंखों से अश्रु बहने लगे.
अयांश की 34 वर्षीय मां ने कहा कि हर मां अपने बच्चे को चलते और दौड़ते हुए देखना चाहती है, लेकिन मुझे वह कभी देखने को नहीं मिला. 4 जून 2018 को पहले जन्मदिन के कुछ ही दिनों बाद पता चला कि अयांश को स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी (SMA) नामक एक दुर्लभ आनुवंशिक बीमारी है.

जब परिवार को बच्चे की इस बीमारी का पता चला तो वो जैसे टूट गए. देश में इस बीमारी के इलाज के विकल्प उपलब्ध नहीं थे. यहां तक कि केंद्र सरकार द्वारा आयात शुल्क और जीएसटी में छूट के बावजूद जोल्गेन्स्मा इंजेक्शन की कीमत 16 करोड़ रुपये बैठ रही थी.

अयांश की मां रूपल ने कहा, ‘डोज दिए जाने के बाद अयांश को पता था कि वह जल्द ही अन्य बच्चों की तरह नॉर्मल हो सकेगा. हम उसे बताते थे कि वह चलने और दौड़ने में सक्षम हो जाएगा. क्योंकि उसे इंजेक्शन लगने जा रहा है. अयांश ने इन्ही शब्दों को अपने दिमाग में कैद किया हुआ था, इसलिए जब हम अस्पताल से निकल रहे थे तो उसने पूछा कि क्या वह चलकर घर जा सकता हैं?’
अयांश के पिता योगेश ने कहा कि दवा का असर दिखने में एक महीने का समय लगेगा. परिवार और डॉक्टर अब साइड इफेक्ट्स को लेकर ज्यादा चिंतित हैं. कहा गया कि अयांश को ठीक होने में कम से कम एक साल का समय लग सकता है.
लोगों की मदद से जुटाए थे 16 करोड़
दरअसल ये पूरा मामला 4 फरवरी को शुरू हुआ जब अयांश के माता-पिता ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक मदद की अपील के साथ पोस्ट शेयर किया और जोल्गेन्स्मा इंजेक्शन के लिए धन जुटाने का अभियान शुरू किया. 23 मई तक उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली, उनकी अभिनेता पत्नी अनुष्का शर्मा, इमरान हाशमी, दीया मिर्जा, जावेद जाफरी, राजकुमार राव, अर्जुन कपूर और सारा अली खान जैसी हस्तियों के साथ-साथ अन्य लोगों की मदद से 16 करोड़ जुटाए थे.
ये इंजेक्शन अमेरिका के नोवार्टिस से इंपोर्ट होकर 8 जून को भारत पहुंचा था. इससे पहले केंद्र सरकार ने इस पर इंपोर्ट ड्यूटी माफ कर दी थी. इसी के साथ-साथ जीएसटी में भी छूट दी गई थी. बच्चे के माता-पिता ने इंजेक्शन को 16 करोड़ रुपए में खरीदा था. ये रुपए उन्होंने क्राउड फंडिंग के जरिए इकट्ठा किए थे. इसके लिए लगभग 65 हजार लोगों ने रुपए डोनेट किए थे.

Source 18-06-2021

Related Articles

Back to top button
Close
Close